भारत के प्रमुख बंदरगाह (Major Ports of India) Gk

❑ कलकत्ता बंदरगाह (डायमंड हार्बर) ➭
नदी बंदरगाह (हुगली नदी पर स्थित)- इससे दक्षिण पूर्वी एशिया, आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैण्ड के लिये आयात-निर्यात होता हैं।

❑ हल्दिया ➭

कलकत्ता बंदरगाह के दक्षिण में हुगली नदी पर कलकत्ता के भार को कमकरने हेतु बनाया गया। यहां तेलशोधन कारखाना भी हैं।

❑ पाराद्विप (प्रदीप बंदरगाह) ➭

उड़ीसा, इससे लौह-अयस्क व कोयला का निर्यात होगा।

❑ विशाखापट्टनम ➭

आंध्रप्रदेश, भारत का सबसे गहरा बंदरगाह। कच्चा तेल व पेट्रोलियमउत्पादन हेतु प्रसिद्ध।

❑ चैन्नई ➭

तमिलनाडु में, भारत का दूसरा सबसे बड़ा यातायात घनत्व वाला बंदरगाह और भारत का सबसे पुराना कृत्रिम बंदरगाह। उर्वरक खनिज, लौह, पैट्रोलियम उत्पादन व्यापार हेतु प्रसिद्ध।

❑ तूतीकोरिन (थीरूवियोचिदंबनाथ) ➭

तमिलनाडु के दक्षिण तट पर स्थित (पूर्वी तट पर)

❑ कोचीन ➭

केरल में स्थित प्राकृतिक बंदरगाह।
चाय, कॉफी व मसालों के निर्यात के लिये प्रसिद्ध।

❑ न्यू मंगलोर ➭

कर्नाटक में, लौह अयस्क का आयात-निर्यात,कुद्रमुख की खान से लोहा इसी बंदरगाह से निर्यात होता हैं।

❑ मर्मगोवा ➭

गोवा में स्थित

❑ न्हावाशोवा ➭

जवाहरलाल नेहरू (महाराष्ट्र में स्थित), शुष्क सामाग्री के व्यापार हेतु प्रसिद्ध।- नई तकनीकी हेतु प्रसिद्ध (मुम्बई का भार कम करने हेतु)।

❑ मुम्बई (द्विप) ➭ 

पश्चिमी तट का सबसे बड़ा प्राकृतिक बंदरगाह।
सर्वाधिक आयात करने वाला बंदरगाह (भारत का 20% व्यापार यही से)।- पैट्रोल व शुष्क निर्मित सामग्री।

❑ कांडला ➭

ज्वारीय बंदरगाह, प्राकृतिक।
कच्चा तेल, पैट्रोल, खाद्य तेल, नमक, कपास।

❑ पोर्ट ब्लेयर ➭

अंडमान निकोबार।
2010 में तेरहवें बंदरगाह के रूप में मान्यता।

 

प्रमुख खिलाड़ियों के उपनाम (Nicknames of Major Players)

Leave a Comment